Home political Union Minister Prakash Javadekar's statement - what took the farmers' movement

Union Minister Prakash Javadekar’s statement – what took the farmers’ movement

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर का बयान – किसानों के आंदोलन को क.या टेकओव

पिछले कुछ हफ्तों से पूरे देश भर में किसान आंदोलन कर रहे हैं जिसका असर पूरे देश भर में देखने को मिल रहा है और टीवी चैनल में आपको जरूर किसानों के आंदोलन से जुड़ी हुई हर एक खबर देखने को मिल रही है और सरकार भी पूरी कोशिश कर रही है कि इस आंदोलन को किसी भी तरीके से समाप्त किया जा सके ताकि आम जनता को किसी भी कभी कोई परेशानी ना हो लेकिन हीरो आंदोलन अभी भी खत्म होता नहीं दिख रहा है|

ऐसी परिस्थिति में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर का एक बड़ा बयान आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि किसानों के आंदोलन को शाहीन बाग गैंग ने टेकओवर कर लिया है इससे पहले भी बहुत से अपने सामने आई थी जहां पर किसानों के आंदोलन में किसी दूसरे संगठन के शामिल होने की बात की जा रही थी |

लेकिन देश के इतने बड़े मंत्री के द्वारा ऐसा कहना कोई आम बात नहीं है उन्होंने इसी के साथ में यह भी कहा कि यह आंदोलन किसानों का नहीं रह गया है इसमें और दूसरी संगठनों की ताकतें इस आंदोलन को और बढ़ा रही है  लेकिन उन्होंने कोई भी सबूत सामने नहीं रखा लेकिन उन्होंने एक भैंस को पूरे देश भर में शुरू जरूर कर दिया है |

किसान आंदोलन में हिंसा की आशंका 

प्रकाश जावेडकर ने कहां की किसान आंदोलन में हिंसा की पूरी आशंका है नक्सल गैंग  किसानों के आंदोलन के बहाने देश में हिंसा फैलाना चाहती है उन्होंने आगे कहा कि आगे आने वाले दिनों में इस आंदोलन की आड़ में देश भर में हिंसा हो सकती है और सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया जा सकता है |

यह कोई पहली बार नहीं है कि सरकार के कोई बड़े अधिकारी ने स्तर की बात कही होगी इससे पहले भी नक्सल आतंकवाद से पहले खालिस्तानी आतंकवादियों की एंट्री हो चुकी है किसान सरकार के द्वारा एक  नए कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं |

इन सबके चलते आतंकी संगठन खाली स्थान और बड़े संगठन इस आंदोलन के सहारे अपने पैठ को बनाने के लिए कोशिश कर रहे हैं ताकि सरकार पर इन संगठनों का ज्यादा से ज्यादा दबाव बनाया जा सके, लेकिन इसके विपरीत सरकार की पूरी कोशिशों के बाद में भी आंदोलन किसी भी तरीके से रुकता हुआ नहीं दिख रहा है इसी के साथ सरकार किसान संगठनों से कई दौर की बातचीत पहले ही कर चुकी है |

तब तक सरकार और किसान संगठनों के बीच में पांच दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन कोई भी एक नतीजा नहीं निकल पाया है किसानों की मांग है कि जो सरकार ने नए  कृषि  कानून को बनाया है  उसे वापस ले तभी जो है वह अपना आंदोलन समाप्त करेंगे,  इसके विपरीत सरकार ने कहा है कि आप को इस कानून में जो भी समस्या है हम उनको सुधारने के लिए तैयार है लेकिन कानून को वापस नहीं लिया जा सकता |

आगे यह देखना काफी ज्यादा दिलचस्प होने वाला है कि और कौन से  आतंकी संगठन की इस आंदोलन में एंट्री की होती है और किसानों का आंदोलन यह कहां तक आगे और चलता है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Shadi Shagun Yojana Hindi | (51 हजार रुपए दिए जाएंगे)

यह योजना मुस्लिम लड़कियों को ध्यान में रखकर बनाई गई है इस योजना के तहत केंद्र सरकार मुस्लिम लड़कियों को कुछ आर्थिक...

Aatm Nirbhar Yojana | (आत्मनिर्भर भारत योजना)

हम सभी जानते हैं कि आज के समय में देश में कैसी परिस्थिति बनी हुई है जिसके कारण लाखों लोगों बेरोजगार होने...

Very big choreographer Remo D’Souza of Indian cinema gets a heart attack

 इंडियन सिनेमा के बहुत ही बड़े कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा को आया हार्ट अटैक  इंडियन सीमेंट सिनेमा के एक बहुत...

Union Minister Prakash Javadekar’s statement – what took the farmers’ movement

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर का बयान - किसानों के आंदोलन को क.या टेकओव पिछले कुछ हफ्तों से पूरे देश...

Recent Comments